पीएम पोटल पर शिकायत,डीएम ने शुरू कराई जांच

हरिद्वार (आवेश अंसारी)।
ग्राम अहमदपुर ग्रँट में ग्राम प्रधान द्वारा कराए गए विकास कार्यो की शिकायत ग्रामीण द्वारा प्रधानमंत्री भारत सरकार के पोर्टल पर की गई।जिसका संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी द्वारा मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी हरिद्वार को जांच अधिकारी नामित किया गया हैं गांव में जांच पर पहुँचे मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ बीसी कर्नाटक द्वारा गांव में मोके पर जाकर गांव में हुए विकास कार्यो की जांच की गयीं। ग्रामीण विनय सैनी द्वारा गांव में हुए विकास कार्यो में किसी भी प्रकार का कोई टैक्स न काटना ओर चोहदवे वित्त की धनराशि में मनरेगा योजना का युगपतिकरण न किया जाना और भारत सरकार का खुला उलग्घन किया गया है।सीसी सड़क का को मानकों के अनुरूप न बनाना और स्वजल योजना एवं मनरेगा योजना में बड़ा गोलमाल किया गया है। मनरेगा की धनराशि को नगद दिये जाने की जांच की गई। जिसमे कांति देवी एवं धीर सिंह ने बताया कि उन्हें मनरेगा योजना के शौचालयों में नगद पैसा दिया गया हैं और पुराने शौचालयों पर ही पुताई करने के दो सौ रुपए लिए गए है। पुताई के नाम पर ग्राम प्रधान द्वारा अवैध वसूली की गई है।सीसी सड़के 3 से 4 इंच मोटी बनी हुई है।अभी गांव में हुए अन्य विकास कार्यो की अभी जांच जारी है। मई मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी बी सी कर्नाटक ने बताया आज हमारी टीम मौके पर ग्राम अहमदपुर ग्रंट पहुंची जहां उन्होंने ग्राम प्रधान बी डी ओ ओर इस मामले से जुड़े सभी कर्मचारियों को कल ब्लॉक बहादराबाद में इस मामले से जुड़े सभी जरूरी कागजात लेकर उपस्थित होने के लिए आदेश दिया है। आगे की कार्यवाही जांच के बाद की जाएगी।