नौंवी से 12वीं कक्षा के लिए स्कूल खुले, सहमति पत्र के बिना प्रवेश नहीं

नौंवी से 12वीं कक्षा के लिए स्कूल खुले, सहमति पत्र के बिना प्रवेश नहीं
देहरादून। सूबे में सोमवार से नौंवी से बारहवीं तक के स्कूल खुल गए हैं। शासन ने दो दिन पहले दिवसीय और आवासीय स्कूलों को कोरोनाकाल में संचालित करने के लिए एसओपी जारी कर दी है थी। अप्रैल में कोरोना संक्रमण बढ़ने के बाद से स्कूल बंद चल रहे हैं। एसओपी के अनुसार स्कूलों में उन्हीं छात्रों को प्रवेश मिलेगा, जिनके पास अभिभावकों का सहमति पत्र होगा। इसके अलावा मास्क पहनने और शारीरिक दूरी का पूरा पालन करना अनिवार्य होगा।
उत्तराखंड सरकार की ओर से नौवीं से 12वीं कक्षा तक के लिए स्कूल खोलने की अनुमति मिलने के बाद देहरादून जिले में 1239 सरकारी और 11 केंद्रीय विद्यालय आज से खुलने गए हैं। वहीं, जिले के 900 निजी स्कूलों में से कुछ दिवसीय स्कूल ही खुलेंगे। ज्यादातर निजी स्कूल अभी अभिभावकों की सहमति मिलने का इंतजार कर रहे हैं।स्कूल खोलने के बाद डालनवाला स्थित दून इंटरनेशनल स्कूल में पहुंचे छात्र-छात्राओं की मुख्य द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग की गई। इसके साथ ही सैनिटाइजर से हाथ साफ कराए गए, जिसके बाद ही छात्र-छात्राओं को क्लास में आने की अनुमति मिली। उन्हें शारीरिक दूरी पर बैठाया गया है।