प्रणब मुखर्जी की 23 जुलाई को होगी विदाई, 25 को नए राष्ट्रपति ग्रहण करेंगे शपथ

 नईदिल्ली।
तय कार्यक्रम के मुताबिक 23 जुलाई को शाम साढ़े पांच बजे संसद के सेंट्रल हॉल में दोनों सदनों के सांसद राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को भावभीनी विदाई देंगे. इसके बाद 25 जुलाई को सुबह सेंट्रल हॉल में देश के मुख्य न्यायाधीश नए राष्ट्रपति को शपथ दिलाएंगे।
नए राष्ट्रपति के लिए 17 जुलाई को सुबह 10 बजे से वोटिंग का सिलसिला शुरू होगा. संसद भवन से लेकर देश की तमाम विधानसभाओं में वोटिंग शाम पांच बजे तक चलेगी. मतगणना का दौर 20 जुलाई को सुबह दस बजे संसद के कमरा नंबर 62 में शुरू होगा. विधानसभाओं में भी वोटों की गिनती जारी रहेगी. वोटों की संख्या कम होती है, इसलिए उम्मीद की जा रही है कि दोपहर तक नतीजे आ जाएंगे।
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के जुलाई 23 को होने वाले औपचारिक फेयरवेल मिलेगा. इस समारोह में सरकार के तमाम आला लोग औऱ दोनो सदनों के सांसद मौजुद रहेंगे. शपथ ग्रहण 25 जुलाई को होगा. समय अभी तय नहीं है, लेकिन सूत्रों की मानें तो सुबह साढ़े दस या फिर 11 बजे ये कार्य्रक्रम होगा।
चुने गए राष्ट्रपति के घर जाएगी बग्घी
अगर रामनाथ कोविंद जीते तो राष्ट्रपति भवन से बग्धी वाला पूरा काफिला अकबर रोड स्थित उनके अस्थायी निवास पर जाएगा और उन्हें लेकर वापस राष्ट्रपति भबन जाएगा. अगर मीरा कुमार जीतीं तो फिर काफिला उनके घर जाएगा.
होगी कुर्सियों की अदला-बदली
इसके बाद से राष्ट्रपति भवन से दोनों (निवर्तमान एवं चयनित राष्ट्रपति) साथ-साथ संसद के सेंट्रल ह़ॉल आएंगे. संसद के गेट नंबर 5 से दोनों सेंट्रल हॉल में दाखिल होंगे. वहां राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी अपनी कुर्सी पर बैठेंगे. शपथ ग्रहण के बाद कुर्सियों की अदला-बदली हो जाएगी और नए राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी वाली जगह पर बैठ जाएंगे।शपथ के बाद प्रणब मुखर्जी राजाजी मार्ग पर अपने नए घर चल जाएंगे और नए राष्ट्रपति जाएंगे राष्ट्रपति भवन।