भाजपा नेता कर रहे मंत्री की छवि धूमिल


 
हरिद्वार।
दो दिन पूर्व शहरी विकास मन्त्री ने नमामि गंगे कार्यक्रम के अंतर्गत ऋषिकुल स्थित रामघाट पार्क का लोकार्पण कर शहरी विकास मंत्री ने कहा की पार्को के सौंदर्यीकरण को लेकर सरकार गंभीर रूप से कार्य कर रही है। वही कुछ दिनों से भाजपा के जिला स्तर के नेता स्थानीय विधायक एवं शहरी विकास मंत्री की छवि को विकास पुरुष के रूप में दर्शा रहे हैं और पिछले 17-18 सालों का विकास के रूप में बखान करने में लगे हैं वहीं कनखल स्थित हनुमान गढ़ी पार्क को कनखल के स्थानीय भाजपा नेता और पार्षद बिजली घर बनाने की कवायद में लगे हुए हैं। उनकी शह पर पार्क को खोदकर उसके अंदर भूमिगत बिजली की लाइन के बड़े-बड़े पैनल लगाने की तैयारी पूरी कर ली गई है। भाजपा नेताओं के सहयोग से जल्द ही यह पार्क एक बड़े बिजली घर में तब्दील होने जा रहा है। जबकि पार्क से महज 50 मीटर की दूरी पर सामने की बिजली घर मौजूद है जिसमें पीछे की तरफ इतनी जगह खाली है कि वहां भूमिगत बिजली की लाईन के पैनल लगाए जा सकते है। बावजूद इसके सत्ता के मद में चूर छुटभयये नेता शहरी विकास मं़त्री की छवी को धूमिल करने पर उतारू है। इस छोटे से पार्क को जिसमें कई बड़े छायादार वृक्ष लगे हुए हैं को बिजली घर बनाने पर तुले हैं। जबकि यह पार्क 90 के दशक में कनखल क्षेत्र में सीवर लाइन में सफाई के दौरान कनखल के ही रहने वाले एक सफाई कर्मचारी चन्द्रबोस दम घुटने से शहीद हो गए थे। जिसके बाद उसके नाम पर नगर पालिका द्वारा पार्क का नाम कर दिया गया था। और उनके नाम का पत्थर भी पार्क के बाहर लगा है। इस बाबत जब वाल्मीकि समाज के लोगों को पता चला कि पार्क में बिजली घर बनाया जा रहा है तो उन्होंने मौके पर पार्क को बिजली घर का रूप न देने मांग करते हुए पार्क में कोरेगांव भीमा के शहीदो के शहीदी दिवस पर सभा आयोजित कर शहीदो को श्रद्धांजलि अर्पित की। वहीं मेला अधिकारी को ज्ञापन देकर पार्क के सौंदर्यकरण की मांग की गई।