महंत नरेंद्र गिरी मौत मामलाः हरिद्वार के कई प्रॉपर्टी डीलर और संत पुलिस के रडार पर

हरिद्वार। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी की मौत के बाद अब हरिद्वार के प्रॉपर्टी डीलर और कई संत रडार पर आ गए है। यह वह लोग हैं जो लगातार नरेंद्र गिरी के संपर्क में थे। यूपी पुलिस प्रॉपर्टी डीलरों के अलावा संतों से भी पूछताछ कर सकती है। उधर हरिद्वार पुलिस ने यूपी पुलिस को हरसंभव मदद करने का आश्वासन दिया है।
पुलिस अधिकारियों का कहना है कि जो भी मदद यूपी पुलिस को चाहिए होगी वह की जाएगी। श्रीमहंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के बाद संत जगत पूरी तरह हिल गया है। संत आत्महत्या की बात पर विश्वास नहीं कर रहे है और जांच की मांग कर रहे है।
उधर सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने आंनद गिरी समेत दो अन्य लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। शुक्रवार को नरेंद्र गिरी को हरिद्वार आना था। लेकिन उससे पहले ही उनकी मौत हो गई। यहां उनकी कई संतों के अलावा प्रॉपर्टी से जुड़े भक्तों से भी मुलाकात होनी थी। नरेंद्र गिरी की कॉल डिटेल के आधार पर यूपी पुलिस संतों के अलावा प्रॉपर्टी डीलरों से भी पूछताछ करने आ सकती है। पुलिस सूत्रों की मानें तो यूपी के अधिकारियों ने हरिद्वार पुलिस से संपर्क भी साधा है। एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि यूपी पुलिस को जो भी मदद चाहिए होगी। उनकी मदद की जाएंगी।